TOP 5 Kabristaan Horror stories | कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी | 2022

Table of Contents

Kabristaan Horror stories |
कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी | 2022

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी
कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इनहिंदी BEDTIME STORIES

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी :-Hello doston ! shayarhindi.com mein aap sabhi ka bahut bahut swaagat hai . Aaj hm lekar aaye hai aapke gharo ke chote chote baccho ke liye कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी  . Bachho ko darawani kahaniyaa sunne mein bahut maza aata hai wo aksar humse kahaniyaan sunane ki zid krte hai aur hm sabhi ko ye pta hai ki baccho ko samjha kitna mushkil hota hai . To aasha karte hai ki hamari कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी  kahaniyon se aapki kuch madad ho paayegi. To padhiye is post ko aur masti karaiye apne  bachho ko kch alg andaaz mein . Aur story no. 2 ko jarur padhe !

 

SAVE GIRL CHILD !

click below for more quotes

Tareef shayari for status
Attitude shayari for boys 

Royal Dabbang hindi status shayari . 
Chaturai par shayari for What’s app status .
मनहूस पर शायरी  hindi shayar .
Positive Quotes in Hindi for life
बेडटाइम स्टोरी फॉर किड्स इन हिंदी
मोरल स्टोरीज इन हिंदी

{ कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी }
(1)

JUNGLE KI CHUDAIL

Sameer aur auska chota bhai Veeru apne mama ke ghar se chuttiyan bitakar
ghar laut rahe thay. Ghar jaldi pahuchne ke liye Sameer ne shortcut se jaane ka socha.
Magar Veeru us raaste se aane ko taiyaar nahi tha. Kyonki bade-budho logo ne jungle mein
chudail ke hone ki baat baata rakhi thi.


Kisi tarah samjha buhjakar Sameer ne use mana liya aur pakki sadak chodkke jungle ke raaste aane laga.
Lagbhag 10 min gaadi chalate rhne ke baad ek jhopdi dikhai di.JIske aanagan mein ek budhiya jhaadu
laga rahi thi. Sameer ne bola dekh chote jungle mein koi rhta bhi hai. Veeru darte huwe bola pakka koi
insaan hi hai na.

( कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी )

Thodi der aage aur chalne ke baad jhopdi firse dikhai di aur wahi budhiya uske aangan mein baithi thi.
Veeru bola bhai dekho wahi jhopdi aur wahi budhiya lagta hai aaj hum marne waale hai. Sameer ne bola
koi aur jhopdi hogi aur budhiya ko hamne najdeek se thodi dekha tha.

Thodi der baad jhopdi fir dikhai di aur is baar Sameer khud bhi bahut dar gaya, uska chehra peela pad gaya
aur Veeru to rone hi laga. Sameer ne Veeru se bola mujhe apni ghadi de. Veeru ne bola kiu marne se phehle
meri ghadi lena chahte ho. Bola tha na jungle ke raaste mat chalo.

BEDTIME कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी
Sameer bola tu ghadi de aur rona band kar baaki main sambhaalta hun. Sameer ne ghadi wahi gira di
aur gaadi tezi se bhagaai . Thodi der baad unhone fir jhopdi dekhi par is baar usme budhiya nahi thi par
ghadi wahi giri thi. Veeru chillane laga ab to hm pakka marne waale hai .Par Sameer samajh chuka tha ki
wo kis chaal mein fas chuke hai. Usne Veeru se kaha tu gaadi mein hi ruk main us bhootni se milkar aata hu.
Aur wah jhopdi ki chal diya

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी FOR KIDS

Veeru chilla raha tha bhaiya waha mat jaao wo chudail hai chudail. Fir achanak se Veeru ke
gaal pe ek thappad pada aur awaz aayi. Ghar aagya chote uth jaa.

Aur Veeru aankh malte huwe utha to gaadi unke ghar ke aangan mein khadi thi. Sameer ne
usse pucha tu neend meinkya badbada raha tha bay- aaj hum marne waale hai, aaj hum marne waale hai.
Sameer ki baat sunke Veeru khud pe hi hasne lag gaya.

समीर और औस्का छोटा भाई वीरू अपने मामा के घर से चुट्टियां बिटाकर
घर लौट रहे थे। घर जल्दी पाने के लिए समीर शॉर्टकट से जाने का सोचा।
मगर वीरू उस रास्ते से आने को तैयर नहीं था। क्यों बड़े-बुद्धो लोगो ने जंगल में
चुदैल के होने की बात बात राखी थी।

किसी तरह समझौता बुहजाकर समीर ने इस्तेमाल किया और पक्की सड़क छोडके जंगल के रास्ते आने लगा।
लगभाग 10 मिनट गाड़ी चलते रहने के बाद एक झोपड़ी दिखाई दी। जिसके आने में एक बुद्धि झाडू
लगा रही थी। समीर ने बोला देख छोटे जंगल में कोई रहता भी है। वीरू दार्ते हुए बोला पक्का कोई
इंसान ही है ना।

थोड़ी देर आगे और चलने के बाद झोपड़ी फिर से दिखाई दी और वही बुधिया उसके आंगन में बैठी थी।
वीरू बोला भाई देखो वही झोपड़ी और वही बुद्धि लगता है आज हम मरने वाले है। समीर ने बोला
कोई और झोपड़ी होगी और बुधिया को हमने नजर से थोड़ी देखा था।

थोड़ी देर बाद झोपड़ी फिर दिखई दी और इस बार समीर खुद भी बहुत डर गया, उसका चेहरा पीला पड़ गया
और वीरू तो रोने ही लगा। समीर ने वीरू से बोला मुझे अपनी घाडी दे। वीरू ने बोला किउ मार्ने से पहले
मेरी घडी लेना चाहते हो। बोला था न जंगल के रास्ते मत चलो।

समीर बोला तू घड़ी दे और रोना बंद कर बाकी मैं सम्भालता हूं। समीर ने घाडी वही गिरा दी
और गाड़ी तेज़ से भगाई। थोड़ी देर बाद उन्होन फिर झोपड़ी देखी पर है उसमे बुधिया नहीं थी पर
घडी वही गिरी थी। वीरू चिल्लाने लगा अब तो हम पक्का मरने वाले है। पर समीर समाज चुका था की
वो किस चाल में फस चुके हैं। उसे वीरू से कहा तू गाड़ी में ही रुक मैं हम भूतनी से दूधर आता हूं।
और वह दुकान की ओर चल दिया

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी TO ENTERTAINT YOUR KIDS

वीरू चिल्ला रहा था भैया वहा मत जाओ वो चुडैल है चुदैल। फिर अचानक से वीरू के
गाल पे एक थप्पड़ पड़ा और आवाज आई। घर आज्ञा छोटे उठ जा।

और वीरू आंख मालते हुए तो गाड़ी उनके घर के आंगन में खादी थी। समीर नी
उससे पुचा तू नींद में बड़ा बड़बड़ा रहा था बे- आज हम मरने वाले है।
समीर की बात सुनके वीरू खुद पे ही हसने लग गया।

[ कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी ]

(2)

KABARISTAAN KI CHUDAIL

Ek samay ki baat hai ek gaao mein Sonu naam ka ek sabjiyon ka vyaapaari rehta tha wah apne khet mein
sabjiyaan lagata tha par dikkat yah thi ki uska khet kabaristaan ke paas tha . Gaao mein khabar yeh thi ki ek chudail jiske lambe kaale baal aur aankhein laal thi roj raat ko nikalkar bhatakte rehti thi. Sonu gaao waalo se kehta hai ki
kabhi-kabhi to mujhe bhi sabjiyaan todne mein dar lagta hai.
GOODNIGHT कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी
Sonu har subah sabjiyaan todta hai aur unhe bechkar apna gujara karta hai. Ek din  uko yaad aata hai ki wo to
kheton mein beej daalna hi bhul gaya. Wo baajar jaakar beej kharidta hai aur baajar mein hi use shaaam ho jaati .
Fir usne socha ki koi baat nahi shaam hi to hui hai, main jaldi se apna kaam karke waapas aa jaaunga.

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी FOR STORY LOVER

yeh sochkar wo beej daalne chala jaata hai aur kaam kaam karte kab raat ho gayi Sonu ko pata hi nahi chala.
Achanak se jor jor ki bhayanak aawajein aane lagi jaise ki koi bhoot ho. Sonu bahut darne laga. Fir chudail
uske piche aakar khadi ho gayi aur chillane lagi. Sonu jaise hi piche muda uske aankhein khuli ki khuli reh gayi.
Chudail jor jor se hasne lagi, ye sab dekh kar Sonu jaldi jaldi bhaagne lage aur chudail uske piche udne lagi.
कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी FOR JUNIOR KIDS
Usne Sonu ko dhakka dekar gira diya aur uski ek taang pakadar kabaristaan mein le jaane laga. Wha pahuchkar
Sonu ne dekha ki waha bahut saari laashein padi thi. Wo bahut dar gaya aur jor jor se chillane laga- bachaao bachaao
mujhe bachaao. lekin uski aawaz sunne wala wha koi bhi nahi tha.

Bahut raat ho chuki thi aur Sonu ab tak ghar nahi aaya tha to uske padosi ko laga ki jarur Sonu kisi musibat mein hai.
Usne jaakar gaao waalo se kaha, gaao waalo ne socha ki chudail to bahut taakatwar hai
ham sab ko maar daalegi. Fir wo log gaao se dur ek kutiya me rhne wale Gyaani baba ke paas unlogo ne unse madad maangi.

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी FOR KG KIDS
Sab baba ko lekar kabaristaan me pahuche to dekha ki chudail ne Sonu ko ped par latka diya hai.
Gaao waalo aur baba ko dekhar Sonu chillane lga mujhe bacha lo. Gyaani baba ne kuch mantar padha
aur chudail ko mitti ka putla bana diya aur Sonu  ko bacha liya. Sonu khushi ke maare rone laga aur
aakar gaao waalo aur baba ko dhanyawaad bola!


कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी !

एक समय की बात है एक गाओ में सोनू नाम का एक सब्जियों का व्यपारी रहता था वह अपने खेत में
सब्जियां लगता था पर दीकत यह थी कि उसका खेत कबरिस्तान के पास था। गाओ में खबर ये थी की एक चुडैल जिसके
लंबे काले बाल और आंखें लाल थी रोज रात को निकलकर भटकते रहती थी। सोनू गाओ वालों से कहता है कि
कभी-कभी तो मुझे भी सब्जियां तोडने में डर लगता है।

सोनू हर सूबा सब्जियां तोता है और उनको बेचकर अपना गुजरा करता है। एक दिन आपको याद आता है कि वो तो
खेत में बीज डालना ही भूल गया। वो बाजार जाकर बीज खड़ीता है और बाजार में ही शाम हो जाती है।
फिर उसे सोचा की कोई बात नहीं शाम ही तो हुई है, मैं जल्दी से अपना काम करूंगा।

ये सोच वो बीज डालने चला जाता है और काम करते कब रात हो गई सोनू को पता ही नहीं चला।
अचानक से जोर की भयानक आवाजे आने लगी जैसे कोई भूत हो। सोनू बहुत डरने लगा। फ़िर चुडैल
उसके पिचे आकार खादी हो गई और चिल्लाने लगी। सोनू जैसे ही पिचे मुदा उसके आंखें खुली की खुली रह गई।
चुडैल जोर जोर से हसने लगी, ये सब देख कर सोनू जल्दी जल्दी भागने लगे और चुडैल उसके पीछे उठने लगी।

<कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी>

उसे सोनू को ढका देकर गिरा दिया और उसे एक तांग पकार कबरिस्तान में ले जाने लगा। व्हाट पहुचकर
सोनू ने देखा की वहा बहुत सारी लाशें पड़ी थी। वो बहुत डर गया और जोर से चिल्लाने लगा- बचाओ बचाओ
मुझे बचाओ। लेकिन उसकी आवाज सुनने वाला कोई भी नहीं था।

बहुत रात हो चुकी थी और सोनू अब तक घर नहीं आया था तो उसके पासोसी को लगा की जरूर सोनू किसी मुसीबत में है।
उसे जाकर गाओ वालो से कहा, गाओ वालों ने सोचा की चुडैल तो बहुत ताकतवर है
हम सब को मार डालेगी। फिर वो लोग गाओ से दूर एक कुटिया में रहने वाले ज्ञानी बाबा के पास उन लोगो ने उनसे मदद मांगी।

सब बाबा को लेकर कबरिस्तान में पाहुचे तो देखा की चुडैल ने सोनू को पेड़ पर लटका दिया है।
गाओ वालो और बाबा को देख सोनू चिल्लाने लग मुझे बचा लो। ज्ञानी बाबा ने कुछ मंतर पढ़ा:
और चुडैल को मिट्टी का पुतला बना दिया और सोनू को बचा लिया। सोनू खुशी के मारे रोने लगा और
आकार गाओ वालो और बाबा को धन्यवाद बोला!

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी TO HELP PARENTS

 

 

Thank You.

Doston aap sabhi ka bhtt dhanywaad hmare कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी  blogpost ko pahne ke liye . doston comment jrur kare apke comet se hamara hoosla badhta hai . Hm apke liye ese hi majedar or dhuwadar jokes and  shayari laate rehege .

shayarhindi sigininf off…… )

Leave a Comment